मुंगेली जिला Mungeli Jila

जिला - मुंगेली
स्थापना - 1 जनवरी 2012
क्षेत्रफल - 2750 वर्ग किलोमीटर
जनसंख्या 2011 - 701707
तहसील - पथरिया, लोरमी, मुंगेली
विकाशखण्ड - पथरिया, लोरमी, मुंगेली
नगर पंचायत - 3
नगर पालिका - 1
ग्राम पंचायत - 669

मुंगेली को तहसील का दर्जा 1860 में मिला था।142 वर्ष बाद 2012 मे मुंगेली तहसील से जिला बन पाया। नये जिले में तीन तहसील मुंगेली, पथरिया और लोरमी शामिल है।
किव्यदंतियो के अनुसार, फणीनागवंशी राजा के सपने में त्रिपथगामनी गंगा ने प्राकट्य होकर कुंड व मंदिर की स्थापना के निर्देश दिए थे। उन्होंने सेतगंगा में कुंड व मंदिर को भव्य रूप देने का निर्देश माना। कुंड का जल गंगा के समान शीतल व निर्मल होने की वजह से ऋषियों ने इसे श्वेत गंगा का नाम दिया था। जो बोलचाल में सेतगंगा हो गया। टेसुआ के तट पर बसा यह स्थान मुंगेली जिले का तीर्थ कहलाता है।

जनजातियां - बैगा, गोंड़।
परियोजना - राजीव गांधी परियोजना (खुड़िया बांध)
पर्यटन - मदकूद्वीप, श्वेत गंगा, अचानकमार टाइगर रिजर्व।
नदी (उद्गम) - अरपा, मनियारी।