Download Chhattiagarh Gyan App

छत्तीसगढ़ पंचायती राज अधिनियम 1993 की धाराएं - Panchayati Raj Adhiniyam 1993 Dhara


पंचायती राज अधिनियम 1993 में कुल 132 धाराएं एवं 15 अध्याय है।

अध्याय 1
1. संक्षिप्त नाम विस्तार और प्रारम्भ
2. परिभाषाएं

अध्याय 2
3. ग्राम के संबंध में अधिसूचना
4. ग्राम सभा की सूची
5. ग्राम के मतदाताओं का रजिस्ट्रेशन
6. ग्राम सभा का सम्मिलन
7. ग्राम सभा की शक्तियां और कृत्य तथा वार्षिक सम्मेलन

अध्याय 3
8. पंचायत का गठन
क) ग्राम के लिए ग्राम पंचायत
ख) खण्ड के लिए जनपद पंचायत
ग) जिला के लिए जिला पंचायत
9. पंचायतों की अवधि
10. ग्राम, जनपद एवं जिला पंचायत की स्थापना
11. पंचायतों का निगमन
12. पंचायतो का वार्डो में विभाजन
13. पंचायतो का गठन
नोट: सरपंच का निर्वाचन लंबित होने पर, पंच धारा 20 के अधीन अपने में से एक कार्यवाहक सरपंच का निर्वाचन करेंगे।
14. मत देने एवं अभ्यर्थी होने की अर्हता
15. एक साथ सदस्यता का प्रतिषेध
17. सरपंच और उपसरपंच का निर्वाचन
20. प्रथम सम्मेलन और पदावधि
21. सरपंच और उपसरपंच के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव
21-क. ग्राम पंचायत के पदाधिकारियों का वापस बुलाया जाना(Recall)
22. जनपद पंचायत की संरचना
25. जनपद पंचायत के अध्यक्ष उपाध्यक्ष का निर्वाचन
27. प्रथम सम्मेलन एवं पदावधि
28. अध्यक्ष उपाध्यक्ष के विरुद्ध अवुश्वास का प्रस्ताव
29. जिला पंचायत का गठन
34. प्रथम सम्मेलन एवं पदावधि
35. अध्यक्ष उपाध्यक्ष के विरुद्ध अवुश्वास का प्रस्ताव
36. पंचायत पदाधिकारी होने के लिए निरर्हताएं
37. पंचायत पदाधिकारी द्वारा त्यागपत्र
39. पंचायत पदाधिकारी का निलंबन
40. पंचायत पदाधिकारी का हटाया जाना

अध्याय 4
42. राज्य निर्वाचन आयोग की शक्तिया

अध्याय 5
46. ग्राम पंचायत की स्थायी समितियां
47. जनपद एवं जिला पंचायत की स्थायी समितियां

अध्याय 6
कृत्य - 49, ग्राम पंचायत। 50, जनपद पंचायत। 52, जिला पंचायत।
57. मार्गो का नामकरण भवनों पर क्रमांक डालने की शक्ति
अघ्याय 6-क
कालोनी निर्माण संबंधित

अध्याय 7
66. पंचायत निधि

अध्याय 8
69. सचिव तथा मुख्य कार्य पालक अधिकारी की नियुक्ति( इनकी कृत्य - 72)
72. बजट तथा वार्षिक लेख

अध्याय 9
74-83 कर,वसूली संबंधित

अध्याय 10
84-94 नियंत्रण संबंधित
89. हानि , दुर्पयोजन के लिए पंचो आदि का दायित्व

अध्याय 11
95-97
95. नियम बनाने की शक्तियां

अध्याय 12
98-106 शास्ति

अध्याय 13
107-128 प्रकीर्णन
113. भूमि का अर्जन
115. पंचायत की धन उधर देने की शक्ति
126. ग्राम का विभाजन
127. खंड तथा जिला पंचायतो की सीमाओं में परिवर्तन

अध्याय 14
129. पंचायतो की संपरीक्षा
अध्याय 14-क
क - च. अनुसुचित क्षेत्र में पंचायतो का विशिष्ट उपबंध
ड़. स्थानों का आरक्षण

अध्याय 15
130-132. निरसन