केशकाल घाटी

केशकाल, छत्तीसगढ़ राज्य के कोंडागांव जिले के राष्ट्रीय राजमार्ग 30 में स्थित एक गांव है। बस्तर को भारत के अन्य हिस्सो से जोड़ने वाला रास्ता केशकाल की घाटी से गुजरती है। यह घाटी अपने गुमावदार सडको के लिए प्रशिद्ध है।

तेलिन माता मंदिर:
केशकाल घाटी को तेलिन घाटी के नाम से भी जाना जाता है। इस घाटी के मध्य में तेलिन माता का मंदिर स्थित है एवं कुछ दूर भंगाराम मांर्इ जो न्याय की देवी का पवित्र स्थल स्थित है। तेलिन सती मां मंदिर में घाटी से गुजरने वाले यात्री रूककर माता का दर्शन तथा क्षणिक विश्राम कर अपने गंतव्य की ओर प्रस्थान करत है।

बाईपास मार्ग:
रोड जाम की परेशानी को दूर करने के लिए राज्य सरकार ने केशकाल घाटी में एक अन्य बाईपास मार्ग बनाने की योजना बनाई है। 2015 मे पीडब्ल्यूडी के राष्ट्रीय राजमार्ग शाखा ने इसके लिए सर्वे का काम पूरा कर रिपोर्ट केंद्रीय राजमार्ग मंत्रालय को भेज दिया है। नए रूट के तहत केशकाल घाटी के नीचे से मुरगांव से सिलयारी होते हुए बटराली तक सड़क का निर्माण होगा।