केशकाल घाटी - पर्यटन, जलप्रपात

केशकाल, छत्तीसगढ़ राज्य के कोंडागांव जिले के राष्ट्रीय राजमार्ग 30 में स्थित एक गांव है। बस्तर को भारत के अन्य हिस्सो से जोड़ने वाला रास्ता केशकाल की घाटी से गुजरती है। यह घाटी अपने गुमावदार सडको के लिए प्रशिद्ध है।

तेलिन माता मंदिर:
केशकाल घाटी को तेलिन घाटी के नाम से भी जाना जाता है। इस घाटी के मध्य में तेलिन माता का मंदिर स्थित है एवं कुछ दूर भंगाराम मांर्इ जो न्याय की देवी का पवित्र स्थल स्थित है। तेलिन सती मां मंदिर में घाटी से गुजरने वाले यात्री रूककर माता का दर्शन तथा क्षणिक विश्राम कर अपने गंतव्य की ओर प्रस्थान करत है।

गोबराहीं मंदिर :
यह मंदिर केशकाल क्षेत्र में कोंडागाँव से करीब 57 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह क्षेत्र भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण रायपुर सर्कल द्वारा 'संरक्षित स्मारक' है। यहां काले पत्थर का शिव लिंग 7 वीं शताब्दी का हो सकता है।

बाईपास मार्ग:
रोड जाम की परेशानी को दूर करने के लिए राज्य सरकार ने केशकाल घाटी में एक अन्य बाईपास मार्ग बनाने की योजना बनाई है। 2015 मे पीडब्ल्यूडी के राष्ट्रीय राजमार्ग शाखा ने इसके लिए सर्वे का काम पूरा कर रिपोर्ट केंद्रीय राजमार्ग मंत्रालय को भेज दिया है। नए रूट के तहत केशकाल घाटी के नीचे से मुरगांव से सिलयारी होते हुए बटराली तक सड़क का निर्माण होगा।

जलप्रपात
उपरबेदी जलप्रपात ( Uparbedi Waterfall ) 
उपरबेदी जलप्रपात छत्तीसगढ़ में कोंडागाँव जिले के केशकाल क्षेत्र में स्थित है। कोंडागाँव से करीब 68 किलोमीटर की दूरी पर उपरबेदी गांव में एक स्थानीय नाले पर है। उपरबेदी झरने के दो सोपान बनते हैं, जिसमे से प्रथम सोपान लगभग 10 फिट ऊँचा है, जिसके बाद का सोपान मुख्य सोपान है, जो लगभग 40 फिट ऊँचा है।

मुत्ते खडका जलप्रपात ( Mutte Khadaka Waterfall ) 
कोंडागाँव जिले में केशकाल क्षेत्र में स्थित है। कोंडागाँव से करीब 70 किलोमीटर की दूरी पर मडगाव नामक ग्राम के बाहरी क्षेत्र से प्रवाहित होते नाले पर बनता है। यहां का स्थानीय नाला लगभग 35 फिट से गिरकर बनता है। इस जलप्रपात के 2 सोपान है। दूसरा सोपान पहले 35 फिट वाले सोपान से करीब 300-400 मीटर की दूरी पर स्थित है।

लीम दरहा जलप्रपात ( Lim Daraha Waterfall ) 
लीम दरहा जलप्रपात छत्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले के केशकाल क्षेत्र में स्थित है। यह कोंडागाँव से करीब 60 किलोमीटर की दूरी पर बावनीमारी गांव के पास आमा नाले पर है। इस जलप्रपात की ऊंचाई 20-25 फिट है। यह अत्यंत खूबसूरत है। आमा नाले पर स्थित यह जलप्रपात बारहमासी है। यह प्रपात एक कुंड में गिरता है।

मिरदे जलप्रपात ( Mirade Waterfall ) 
कोंडागाँव से करीब 60 किलोमीटर दूर स्थित बावनिमारी गांव से आगे कुवे-मारी ग्राम के निकट मिरदे नाले पर स्थित करीब 50-60 फिट ऊंचा जलप्रपात है।

आमा दरहा जलप्रपात ( Ama Daraha Waterfall )
आमा नाले में स्थित होने की वजह से इसे आमा दरहा कहा जाता है। यह लीम दरहा के पास ही स्थित है। इसकी गहराई करीब 10-15 फिट है।