झारखंड का बजट



वर्ष 2019-20
  • मुख्यमंत्री रघुवर दास ने 22 जनवरी 2019 (मंगलवार) को विधानसभा में पिछली बार के 80200 करोड़ के मुकाबले 85,429 करोड़ का बजट प्रस्तुत किया है।
  • 2019-20 के बजट में 65,803 करोड़ राजस्व व्यय और 19, 626 करोड़ पूंजीगत व्यय के लिए रखा गया है।
  • सामान्य क्षेत्र के लिए बजट का 23,377 करोड़ रुपये, सामाजिक क्षेत्र के लिए 28,882 करोड़ रुपये और आर्थिक क्षेत्र के लिए 33,170 करोड़ रुपये का प्रस्ताव है।
  • कुल बजट का 11.82 फीसद बच्चों पर खर्च होगा।
  • सकल घरेलू उत्पाद 10.5 प्रतिशत रहने का अनुमान है।
  • प्रति व्यक्ति आय भी बढ़कर 85,513 रुपये होने का आकलन किया गया है।
  • राजकोषीय घाटा GSDP के 2.26 प्रतिशत के दायरे में रहेगा।

कृषि
  • 2019-20 में कृषि बजट 7231.40 करोड़ रुपये है। यह 2018-19 की तुलना में 24.51 फीसदी अधिक है।
  • किसानों को धान खरीद पर एमएसपी के अतिरिक्त प्रति क्‍विंटल 150 रुपये बोनस का भुगतान।
  • 1200 किसानों को मधुमक्खी पालन से जोड़ने के लिए मीठी क्रांति शुरू करने की घोषणा सीएम ने की है।
  • मुख्यंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के तहत 5 हजार रुपये प्रति एकड़ प्रतिवर्ष की मदद मिलेगी।

योजनाएं
  • उज्जवला योजना के तहत अब तक 25 लाख से अधिक परिवारों को एलपीजी कनेक्शन दिया गया ।
  • वर्ष 2019-20 में 15 लाख परिवारों को एलपीजी कनेक्शन सरकार देगी।
  • प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत अबतक 3,61,861 आवासों का निर्माण हो चुका है। आगामी वित्तीय वर्ष में 1,50,000 आवासों के निर्माण का लक्ष्य है।
  • मुख्यमंत्री मेधा छात्रवृति योजना शुरू होगी।

स्वास्थ्य
  • साल 2014 में एक हजार जन्म में 34 बच्चों की मौत हो जाती थी जो साल 2016 में घटकर 29 हो गया जबकि राष्ट्रीय औसत दर 34 ही है। 
  • पूर्ण टीकाकरण दर वर्ष 2014 में 61.90% था जो बढ़कर साल 2018 में 96 फीसद हो गया। 
  • स्वास्थ बजट में सरकार ने देवघर में एम्स की स्थापना का जिक्र किया गया है।

बिजली / ऊर्जा : 170 नए सब स्टेशनों का निर्माण, 59 पुराने सब स्टेशन का क्षमता विस्तार, 33 केवीए की 4000 किलोमीटर लाइन तथा 11kv की 3500 किलोमीटर लाइन के निर्माण का लक्ष्य रखा गया है।


EmoticonEmoticon