एनिऐक (ENIAC) पहला आम-उद्देश्य इलेक्ट्रॉनिक कंप्यूटर


एनिऐक (ENIAC - इलेक्ट्रौनिक न्यूमेरिकल इंटीग्रेटर एंड कंप्यूटर का संक्षिप्त रूप ) पहला आम-उद्देश्य इलेक्ट्रॉनिक कंप्यूटर था। इसे संयुक्त राज्य अमेरिका के बैलिस्टिक अनुसंधान प्रयोगशाला के लिए तोपखाने की फायरिंग तालिकाओं की गणना करने के लिए डिज़ाइन किया गया था, लेकिन इसका पहला इस्तेमाल हाइड्रोजन बम की गणना के लिए किया गया था।

निर्माण:
ENIAC का निर्माण संयुक्त राज्य अमेरिका की सेना द्वारा द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान वित्त पोषित किया गया। 5 जून 1943 को, निर्माण ठेके पर हस्ताक्षर किया गया और पेनसिल्वेनिया विश्वविद्यालय के मूर स्कूल ऑफ इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में अगले महीने से कोड नाम "प्रोजेक्ट PX" के अंतर्गत इस कंप्यूटर पर गुप्त रूप से कार्य शुरू किया गया। ENIAC का अनावरण 14 फ़रवरी 1946 को, पेनसिल्वेनिया विश्वविद्यालय में किया गया था, ENIAC को बनाने में लगभग 500,000 डॉलर की लागत आई। इसे औपचारिक रूप से जुलाई 1946 में अमेरिकी सेना आयुध कोर्पोरेशन द्वारा स्वीकार किया गया।
9 नवम्बर 1946 को ENIAC को बेहतर बनाने और उसकी मेमरी को उन्नत करने के उद्देश्य से बंद कर दिया गया और 1947 में एबरडीन प्रोविंग ग्राउंड, मेरीलैंड में स्थानांतरित कर दिया गया। जहां उसे 29 जुलाई 1947 को पुनः चालित किया गया और तब से लेकर 2 अक्टूबर 1955 तक वह सतत संचालन में रहा।

ENIAC के बारे में:
ENIAC का आकार काफी बड़ा और जटिलता था। ENIAC में करीब 17,468 वैक्यूम ट्यूब, 7200 क्रिस्टल डायोड, 1500 रिले, 70,000 रेसिसटर, 10,000 कपेसीटर और लगभग 5 मिलियन जोड़ थे।
इसका वजन 30 शॉर्ट टन (27 टन) था, लगभग 8.5 बटा 3 बटा 80 फीट (2.6m × 0.9m × 24m) का था, 680 वर्ग फीट (63 m2) जगह लेता था और 150 किलोवाट बिजली की खपत करता था।[8] एक IBM कार्ड रीडर से इनपुट संभव था और आउटपुट के लिए एक IBM कार्ड पंच का प्रयोग किया जाता था। इन कार्डों को एक IBM लेखांकन मशीन की सहायता से ऑफ़लाइन स्थिति में मुद्रित आउटपुट उत्पादित करने के लिए प्रयोग किया जाता है, जिसका एक उदाहरण IBM 405 है।