3/12/2022

डेल्टा और एस्टूरी क्या होता है ? What is delta and estuary


कोई नदी सागर अथवा झील में गिरती है। उस जगह खारे और मीठे पानी के मिलने से, नदी द्वारा बहा कर लाई गई मिट्टी आदि जमा होने लगती है। इस कारण धीरे धीरे नदी की धारा कई छोटे छोटे भागों में बँट जाती है। नदियों द्वारा लाये गए अवसाद डेल्टा या एस्टूरी का निर्माण करते है।


एस्टूरी ( Estuary ), इसका निर्माण उच्च ज्वार वाले क्षेत्र में होता है तथा ऐसे नदिया इनका निर्माण करती हैं जो रिफ्ट घाटी से होते हुए बहती हैं। नदीं का वेग ढलान की वजह से अधिक होता है जिस वजह से नदी द्वारा बहा कर लाई गई अवसादों आदि का जमाव ज्यादा नहीं हो पाता है। इस प्रकार एस्टूरी का निर्माण होता है।

प्रकार : तटीय मैदान एस्टूरी; टेक्टोनिक एस्टूरी; बार निर्मित एस्टूरी; और फ्जोर्ड एस्टूरी।


डेल्टा (Delta), यह शब्द एक यूनानी विद्वान हेरोडोटस के द्वारा दिया गया था। डेल्टा का निर्माण एस्टूरी के विपरीत निम्न ज्वार वाला क्षेत्र में होता है तथा यहाँ तटीय पौधे पाए जाते हैं। नदी के मुहाने पर उसके द्वारा बहाकर लाय गए अवसादों के निक्षेपण से बनी त्रिभुजाकार आकृतियां होती हैं इसका निर्माण नदी द्वारा लाए गए अवसादों के संचयन से होता है। 

प्रकार : चापाकार डेल्टा (Arcuate Delta), पंजाकर डेल्टा (Bird foot Delta), ज्वारनदमुखी डेल्टा, परित्यक्त डेल्टा (Abandaned Delta), प्रगतिशील डेल्टा (Growing delta), और अवरोधित डेल्टा (Blocked delta)