छत्तीसगढ़ में पशुधन - Cattle Stock in Chhattisgarh



छत्तीसगढ़ राज्य के ग्रामीण अंचलों में पशुपालन एक मुख्य व्यवसाय है। छत्तीसगढ़ में 20 वीं पशु संगणना 2019 के अनुसार प्रदेश में 1.59 करोड़ पशुधन तथा 1.87 करोड़ कुक्कुट एवं बतख पक्षीधन है।

पशुधन में गौ वंशीय पशु संख्या 62.90%, बकरी 25.24%, भैंस वंशीय 7.40%, सूकर 3.33% एवं भेड़ की संख्या 1.13% है। 


बढ़ावा देने हेतु :

छत्तीसगढ़ में पशुपालन को बढ़ावा देने के लिए, सकालो जिला अम्बिकापुर एवं परचनपाल जिला जगदलपुर में सूकर प्रजनन प्रक्षेत्र संचालित है। जिसमें लार्ज व्हाइटयार्कशायर, रशियन चरमुखा नस्ल के सुकरों का प्रजनन किया जाता है। नवीन सूकर पालन प्रक्षेत्र की स्थापना कुनकुरी जिला जशपुर में प्रगति पर है। बकरी पालन हेतु दो नवीन बकरी प्रजनन प्रक्षेत्र की स्थापना ग्राम सरोरा जिला रायपुर तथा रामपुर ( ठाठापुर) जिला कबीरधाम में की गई है।


आर्थिक सर्वेक्षण 2021-22 ( स्थिर भाव पर )

वृद्धि 2.27 प्रतिशत एवं सकल घरेलू उत्पाद में प्रतिशत योगदान 1.63 है।

This Is The Newest Post


EmoticonEmoticon