आनंद समाज वाचनालय : रायपुर

आनंद समाज वाचनालय की स्थापना 1908 में रायपुर शहर में की गई थी। यह वाचनालय रायपुर के महत्वपूर्ण सांस्कृतिक धरोहरों में से है। वाचनालय के भवन के लिए बैरम जी पेस्टन ने आर्थिक सहयोग प्रदान किया था। स्वतन्त्रता आंदोलन के समय वर्ष 1920 में गांधीजी ने यहाँ एक आम सभा को संबोधित किया था।

यह वाचनालय जीर्ण-शीर्ण हो गया था, जिसे स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत वर्ष 2018 में नया उत्कृष्ट कलेवर प्रदान किया गया है। इसमे हबीब तनवीर, मुक्तिबोध, मुकुटधर पाण्डे, पदुमलाल पुन्नालाल बख्शी जैसी छत्तीसगढ़ के शख्शियतों के जीवन और रचनाओं को विशेष स्थान दिया गया है।


इन्हे देखें :

महात्मा गांधी जी का छत्तीसगढ़ आगमन

छत्तीसगढ़ में असहयोग आन्दोलन 1920

कंडेल नहर सत्याग्रह 1920




EmoticonEmoticon