छत्तीसगढ़ में चिकित्सा ( लोक स्वास्थ्य ) – Medical (Public Health) in Chhattisgarh


छत्तीसगढ़ में स्वास्थ्य संस्थाएं ( Number Of Hospitala in chhattiagarh )

  1. जिला चिकित्सालय – 26
  2. सिविल अस्पताल – 19
  3. सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र – 170
  4. उप स्वास्थ्य केन्द्र – 792
  5. सिविल डिस्पेंसरी – 5205
  6. शहरी परिवार कल्याण केन्द्र – 31
  7. कुष्ठ गृह एवं चिकित्सालय पॉली क्लीनिक रायपुर – 10
  8. टी.बी. सेनेटोरियम – 3
  9. मानसिक चिकित्सालय सेंदरी बिलासपुर – 1


प्रमुख बिंदु

संस्थागत प्रसव की दर NFHS-3 (2805-06) में 14.3 प्रतिशत थी, जो बढ़कर 70.2 प्रतिशत (NFHS 2015-16) हो गई।

छत्तीसगढ़ में शिशु मृत्यु दर वर्ष 2001 में प्रति एक हजार जीवित जन्म पर 77 थी, जो वर्ष 2018 की स्थिति में घटकर 41 हो गई है।

मातृ मृत्यु दर 2001-03 में 1 लाख प्रति जीवित जन्मों पर भारत में 301 तथा राज्य में 379 थी। जो घटकर भारत व छत्तीसगढ़ में क्रमशः 113 व 159 (SRS Report 2016-18) हो गयी SDG में 2030 तक मातृ मृत्यु अनुपात को 100 से कम लाने का लक्ष्य रखा गया है।

राज्य में कुल 27 जिला क्षय नियंत्रण केन्द्र, 155 टीबी सूनिट तथा 852 डेजिग्नेटेड माईक्रोस्कोपिक सेंटर द्वारा टीबी का उपचार एवं निदान की निःशुल्क सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है।

अंधत्व नियंत्रण कार्यकम का मूल उद्देश्य दृष्टिहीनता को घटाकर वर्ष 2020 तक 0.3 प्रतिशत करना है।


प्रदेश में वर्तमान में 52,474 आंगनवाड़ी एवं मिनी आंगनवाड़ी केन्द्र स्वीकृत हैं।

छत्तीसगढ़ महिला कोष अंतर्गत ऋण योजनांतर्गत वित्तीय वर्ष 2020-21 में 291 महिला समूहों का ऋण प्रदाय किया गया।

ग्रामीण जल प्रदाय कार्यकम (2019-20) अंतर्गत राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों के 19,698 ग्रामों के 74,929 बसाहटों में 2,80,096 हैंडपंप स्थापित कर शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराया जा रहा है।


नई टिप्‍पणियों की अनुमति नहीं है.