फूलबासन बाई यादव कौन है ? - Phoolbasan Bai Yadav



जन्म : 5 दिसम्बर, 1969

फूलबासन बाई यादव एक भारतीय सामाजिक कार्यकर्ता और गैर सरकारी संगठन, माँ बम्लेश्वरी जनहित कारी समिति की संस्थापक हैं, जो छत्तीसगढ़, भारत की आर्थिक और सामाजिक रूप से पिछड़ी महिलाओं के विकास के लिए अपने प्रयासों के लिए जानी जाती हैं। उन्हें भारत सरकार द्वारा 2012 में चौथे सर्वोच्च भारतीय नागरिक पुरस्कार "पद्म श्री" से सम्मानित किया गया था। वह विज़न इंडिया फाउंडेशन के संरक्षक के रूप में भी काम करती हैं।

जिवन एवं शिक्षा :

फूलबासन बाई यादव का जन्म एक सामाजिक रूप से पिछड़े परिवार में 5 दिसंबर 1969 को छत्तीसगढ़ के राजनांदगाँव जिले में एक दूरस्थ गाँव सुकुलदैहान में हुआ था। केवल 10 वर्ष की उम्र में उनकी शादी कर दी गई  थी,  और उन्होने केवल सातवीं कक्षा तक शिक्षा प्राप्त की।

2001 में 10 महिलाओं के साथ स्व सहायता समूह की शुरुआत की थी। उन्होंने दो रुपये और दो मुट्ठी चावव से महिला समूह का काम शुरू किया. आज इस महिला समूह से दो लाख महिलाएं जुड़ गई हैं।

सोर्स : News18



नई टिप्‍पणियों की अनुमति नहीं है.