शेल / शैल वंश - Shel/Shail Vansh ( Dynasty)

शासनकाल :  7वीं - 8वीं

संस्थापक  :  श्रीवर्धन (shrivardhan)

पदवी  :  महाराजाधिराज व परमेश्वर

शेल / शैल वंश ने छत्तीसगढ़ ( तत्कालीन दक्षिण कोसल) और मध्यप्रदेश के कुछ भागो पर शासन किया था। इनकी शासन व्यव्स्था के सम्बंध में ज्यादा जानकारी उपलब्ध नहीं है।


शासक :

  1. श्रीवर्धन
  2. पृथ्वीवर्धन 
  3. जयवर्धन प्रथम
  4. श्रीवर्धन द्वितीय
  5. जयवर्धन द्वितीय

महाकौशल क्षेत्र में स्थित शैल राज्य से संबंधित जानकारी राधौली (मध्यप्रदेश- बालाघाट जिला) तामपत्र से मिली है। इसका प्रथम राजा (संस्थापक) श्रीवर्धन और अंतिम राजा जयवर्धन था। राधौली तामपत्र जयवर्धन ने उत्कीर्ण करवाया था।

इस वंश के संवर्धन ने उत्तरी बंगाल और श्रौर ने कशी पर विजय प्राप्त की थी। जयवर्धन प्रथम ने विंध्यप्रदेश को जीता था। इन्होने शरभपुरी वंश के स्थान पर छत्तीसगढ़ के कुछ क्षेत्रो पर शासन किया।

इन्हे शुर्य वंशी माना जाता है क्यो की इन्होने सुर्य मंदिर का निर्माण कराया था।




अन्य लेख :









नई टिप्‍पणियों की अनुमति नहीं है.