बलरामपुर जिला Balrampur Jila

जिला - बलरामपुर
स्थापना - 1 जनवरी 2012
मुख्यालय - बलरामपुर
मातृ जिला - सरगुजा
क्षेत्रफल - 6016 वर्ग किलोमीटर
जनसंख्या - 730491
तहसील  - वाड्रफनगर, रामचंद्रपुर, बलरामपुर, राजपुर, शंकरगढ़, कुसमी।
विकासखण्ड - वाड्रफनगर, रामचंद्रपुर, बलरामपुर, राजपुर, शंकरगढ़, कुसमी।
जनपद पंचायत - 6
जनजातियां - गोंड़, उराव, कोरवा, पण्डो, नगेशिया, बैगा।

पर्यटन - तातापानी, सेमरसोत अभ्यारण्य , तमोर पिंगला अभ्यारण्य, भेड़िया पत्थर, बैनगंगा, अर्जुनगढ़ की गुफा, झरिया जलप्रपात।

पवई जलप्रपात : यह झरना सेमरसोत अभयारण्य में चनान नदी पर स्थित है। यह 100 फीट की ऊंचाई से गिरता है।
तातापानी : बलरामपुर जिला मुख्यालय से लगभग 12 किलोमीटर दूर स्थित है तातापानी जो प्राकृतिक रूप से निकलते गरम पानी के लिए प्रदेशभर में प्रसिद्ध है। यहां के कुण्डों व झरनों में धरातल से बारह माह गरम पानी प्रवाह करता रहता है।
डीपाडीह : अम्बिकापुर से कुसमी मार्ग पर 75 कि.मी. दूरी पर डीपाडीह नामक स्थान है। डीपाडीह के आस-पास के क्षेत्रों में 8वीं से 14वीं शताब्दी के शैव एवं शाक्य संप्रदाय के पुरातात्विक अवशेष बिखरे हुए हैं।
अर्जुनगढ : यह शंकरगढ़ विकासखंड के जोकापाट के बीहड़ जंगल में स्थित है। एक स्थान पर प्राचीन लंबी ईटों का घेराव है। इस स्थान के नीचे गहरी खाई है, जहां से एक झरना बहता है। इस पहाड़ी क्षेत्र में एक गुफा है, जिसे धिरिया लता गुफा के नाम से जाना जाता है।