दंतेवाड़ा

दंतेवाड़ा छत्तीसगढ़ राज्य का एक शहर और जिला है। दंतेवाड़ा जिला १९९८ ई. में अस्तित्व में आने के पहले यह था बस्तर जिले की एक तहसील था। इस क्षेत्र को दक्षिण बस्तर के नाम से भी जाना जाता है।

जनगणना २०११ :


इतिहास :

इस क्षेत्र उल्लेख महाकाव्य रामायण में मिलता है। महाकाव्य के अनुसार राम ने अपने वनवास के दौरान यहां शरण ली थी। उन दिनों में यह क्षेत्र दंडकारण्य  के रूप में जाना जाता था।

इस क्षेत्र पर ७२ ईसा पूर्व से २०० ई के तक सातवाहन शासकों शासन किया। इनके बाद नल (३५०ई. - ७६०ई. ) और नागाओं (७६०ई. - १३२४ई. ) ने शासन किया। चालुक्य का शासन १३२४ई. - १७७४ई. तक रहा। चालुक्य के बाद यह क्षेत्र मराठो के अधीन आया और १८५३ ई. - १९४७ ई. तक यह क्षेत्र ब्रिटिस के अधीन रहा।