दिवाड त्योहार - Diwad

भारतवर्ष और अन्य देशों में हिंदुओं के द्वाराजब दीपावली का त्योहार(तिहार) मनाया जाता है,  आदिवासी समाज दिवाड त्योहार मानते है। इस त्योहार में गांव के देवता को पकी फसल को अर्पित करते है।

दिवाड त्योहार में आदिवासी अपने लोक देवताओ में आस्था जगाने और बुरी आत्माओ की शक्ति का नाश करने के लिए दीप जलाता है। धनतेरस के दिन आदिवासी लोग देवताओ के स्थान गुडी की, गोठान की, खलिहान की, आना कुडमा की साफ सफाई करता है और नरक चौदस के दिन उन स्थानों में दिया जलाता है।


EmoticonEmoticon