छत्तीसगढ़ राज्य में उच्च शिक्षा ( महाविद्यालय एवं विश्वविद्यालय ) Higher Education in Chhattisgarh ( College and University )

छत्तीसगढ़ राज्य गठन के समय राज्य में कुल 03 विश्वविद्यालय, 118 शासकीय महाविद्यालय एवं 74 अशासकीय महाविद्यालय थे। वर्तमान में (आर्थिक सर्वेक्षण 2021-22) राज्य में 09 राजकीय विश्वविद्यालय, 01 केन्द्रीय विश्वविद्यालय, 14 निजी विश्वविद्यालय, 277 शासकीय महाविद्यालय, 12 शत प्रतिशत अनुदान प्राप्त अशासकीय महाविद्यालय एवं 258 अशासकीय महाविद्यालय संचालित हैं। राज्य में सत्र 2020-21 में प्रदेश का सकल नामांकन अनुपात (G.E.R.) 18.6 है।


छत्तीसगढ़ राज्य के शासकीय महाविद्यालयों में वर्ष 2020-21 में लगभग लगभग 2,59,451 छात्र-छात्राएं अध्ययनरत थे। जिसमें स्नातक स्तर पर 2,24,064 एवं स्नातकोत्तर स्तर पर 35,387 विद्यार्थीगण अध्ययनरत है। उक्त छात्र संख्या में 28,771 सामान्य वर्ग, 40,974 अनु जाति, 59,756 अनु. ज. जा तथा 1,29,950 अन्य पिछड़ा वर्ग के छात्र-छात्राएं शामिल हैं।

सत्र 2021-22 में 24 नवीन शासकीय महाविद्यालयों की स्थापना हेतु प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान की गई। जिसमें 08 नवीन शासकीय कन्या महाविद्यालय भी शामिल हैं।

प्रदेश में संचालित कुल 12 अनुदान प्राप्त अशासकीय महाविद्यालयों को शासन द्वारा शत-प्रतिशत अनुदान प्रदत्त किया गया है।


👉 स्कूली शिक्षा 


राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद् (NAACy) मूल्यांकन  - विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के विनियमन 2012 के प्रावधानानुसार राज्य के सभी विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालयों का नैक द्वारा प्रत्यायन कराया जाना अनिवार्य है। 170 शासकीय महाविद्यालयों को नैक से मूल्यांकन की पात्रता है। 

नई टिप्‍पणियों की अनुमति नहीं है.