अटारी नृत्य - Ataari Nritya

"अटारी नृत्य" छत्तीसगढ़ बैगा जनजति के द्वारा किया जाने वाला एक पारंपरिक नृत्य है। यह नृत्य बघेलखंड के भूमिया बैगाओं का है।
इसके एक पुरुष के कंधे पर दो आदमी होते हैं। वादक इसमें पार्श्व में रहते हैं और एक आदमी ताली बजाते हुए भीतर बाहर आता जाता रहता है।


EmoticonEmoticon