डोमकच/दमकच नृत्य - Damkach/Domkach


डोमकच या दमकच / Domkach नृत्य छत्तीसगढ़ का एक प्रमुख लोक नृत्य है। यह नृत्य मुख्यरूप से कोरवा (korwa) आदिवासी युवक-युवतियों के द्वारा किया जाता है।
यह नृत्य प्राय: यह नृत्य विवाह आदि के शुभ अवसर पर किया जाता है। यही कारण है कि इस नृत्य को "विवाह नृत्य" भी कहा जाता है।
डोमकच या दमकच नृत्य अगहन से आषाढ़ माह तक रात भर किया जाता है। अधिकाशत: इस नृत्य को एक वृत्त के रूप में नाचते हुए किया जाता है।
नृत्य में एक लड़का और एक लड़की गले और कमर में हाथ रखकर आगे-पीछे होते हुए नाचते हैं।
इस नृत्य के प्रमुख वाद्ययंत्रों मांदर, झांझ और टिमकी आदि का प्रयोग किया जाता  हैं। डोमकच नृत्य करते हुए गीत भी गया जाता है, इन गीतों में 'सदरी बोली' का प्रयोग अधिक किया जाता है।

इन्हे भी देखें :
विश्व आदिवासी दिवस
छत्तीसगढ़ राज्य में स्थित अनुसूचित क्षेत्र
छत्तीसगढ़ में विशेष पिछड़ी जनजाति
विशेष पिछड़ी जनजातियों हेतु मुख्यमंत्री 11 सूत्री कार्यक्रम
अनुसूचित जनजातियों की समस्याएँ 
अनुसूचित जनजातियों की साक्षरता दर
अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निरोधक) अधिनियम 1989


EmoticonEmoticon