परघोनी/ परघौनी नृत्य - Parghauni Nritya

परघोनी / परघौनी नृत्य छत्तीसगढ़ में बेगा/बैगा ( Baiga ) आदिवासियों द्वारा विवाह के अवसर पर बारात अगवानी के लिए किया जाने वाला लोक नृत्य है। परघौनी का अर्थ बारात स्वागत होता है।

इस नृत्य का मुख्य उद्देश्य प्रसन्नता की अभिव्यक्ति है नृत्य में वर पक्ष की ओर से एक हाथी बना कर चला जाता है यह एक अनुष्ठान के रूप में होता है यह नृत्य बैगा जीवन चक्र का एक अटूट हिस्सा माना जाता है।


EmoticonEmoticon